क्लिक्स34
hi.news

निर्दोष कार्डिनल पेल की गुप्त रूप से सजा पर अधिक जानकारी

12 दिसंबर को चर्च विरोधी TheDailyBeast.com लिखता है कि en.news ने कल रिपोर्ट की कि 11 दिसंबर को कार्डिनल जॉर्ज पेल की फर्जी तरीके से सजा न्यायपालिका के एक सर्वसम्मत फैसले पर आधारित थी।

90 के दशक के अंत में मेलबर्न के दो लड़कों के साथ समलैंगिक दुर्व्यवहार के मामले में कार्डिनल दोषी पाए गये थे जब वह मेलबर्न के आर्कबिशप थे, हालांकि जगह बताई गई थी यह असंभव है कि ऐसा कोई दुर्व्यवहार हुआ हो।

ट्रायल अभी भी ऑस्ट्रेलिया में एक गेग आर्डर के तहत चल रहा है जो गुप्त ट्रायल की कोई भी जानकारी को सार्वजनिक किये जाने से रोकता है।

पेल ने इस तरह के किसी भी आरोपों से प्रबल रूप से निरंतर इनकार को दोहराया है।

"स्वीमर ट्रायल" के नाम से ज्ञात दूसरा ट्रायल जल्दी 2019 में शुरू होगा। पेल पर चालीस वर्ष पहले बलारट विक्टोरिया में एक सार्वजनिक स्विमिंग पूल में खेलते समय दो लड़कों के साथ "यौन दुर्व्यवहार" का आरोप है। हालांकि कोई पुष्टि करने वाले कोई गवाह नही है।

पेल की सजा चल रहे दुर्व्यवहार के मामलों का परिणाम है जिसमे निर्दोष साबित होने से पहले पादरियों को दोषी माना जाता है हालांकि कैथोलिक पादरीयों के बीच यौन दुर्व्यवहार की घटनाएं न्यूनतम हैं।

चित्र: © Mazur/catholicnews.org.uk, CC BY-SA, #newsZwtshzjnka