Clicks22
hi.news

पूर्व वेटिकन बैंकर, एक नयी विश्व व्यवस्था में आने के लिए विनाश की योजना बनाई गई है

वेटिकन बैंक के पूर्व अध्यक्ष एटोर गोटी टेदेस्ची ने जॉन पॉल II अकादमी फॉर ह्यूमन लाइफ के पहले सम्मेलन में एक भाषण के दौरान कहा कि पश्चिमी कुलीन वर्गों ने पश्चिम के जनसांख्यिकीय पतन की योजना बनाई है ताकि वे एक नयी विश्व व्यवस्था में आने के लिए आर्थिक संकट पैदा कर सकें।

9 जुलाई को LifeSiteNews.com के अनुसार यह गोटी के लिए "असंभव" है कि पश्चिमी निर्णयकर्ताओं को पता नहीं था कि वे जीवन (गर्भपात) और प्राकृतिक कानून (समलैंगिक विचारधारा) से इनकार करके क्या कर रहे थे।

इरादतन आर्थिक, भू-राजनीतिक और सामाजिक आपदाओं से पश्चिम को राष्ट्रीय संप्रभुता के उन्मूलन को स्वीकार करने और "सार्वभौमिक धर्म" के रूप में "ज्ञानात्मक पर्यावरणवाद" को स्थापित करने के लिए "सहमत" करना चाहिए।

गोटी के लिए, इस आपदा के पीछे असली कारण पश्चिमी की "जन्मदर में पतन" है।

गोटी के मुताबिक, आपदा को लाने वाले लोग वर्तमान में "चर्च के शीर्ष" स्तर को सलाह दे रहे हैं, [यानि कि पोप फ्रान्सिस]।

गोटी उन्हें "ज्ञानात्मक प्रोफेट" कहते हैं और उनके नाम पॉल एहरलिच, जेफरी सैक्स और पूर्व संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून हैं।

आधुनिक प्रज्ञानवाद एक विचारधारा है जिसका लक्ष्य वास्तविकता को विचारधारा के साथ बदलना है।

चित्र: Ettore Gotti Tedeschi, © Sentinelle del mattino International, CC BY-SA, #newsLiogsnrcki